Find Your Favourite Song

Teri Mitti Chillout Remix Mp3 Song Download Hindi By Aftermorning Independence Day 2020

Teri Mitti Chillout Remix Mp3 Song Download Hindi in Your Mobiles And PC With High Quality Audio. New Hindi Song Of Aftermorning Teri Mitti Chillout Remix 15 August Song Mp3 Download Free. Teri Mitti Chillout Remix mp3 song download by Aftermorning Independence Day Hindi Album. We Have Huge Collection Of 2019 Hindi Songs, 2020 New Hindi Songs. Teri Mitti Chillout Remix Song mp3 Download In 320Kbps And Also In 128Kbps With Advance Downloading System. Teri Mitti Chillout Remix Song Download Buttons And Lyrics are in Bottom.

Teri Mitti Chillout Remix Mp3 Song Download

Teri Mitti Chillout Remix Song Details:

Song Name: Teri Mitti Chillout Remix Mp3 Song
Singer: Aftermorning
Music: Aftermorning
Music Label: Aftermorning
Lyrics: Aftermorning

Teri Mitti Chillout Remix Song Youtube Mp4 Listen Online

Teri Mitti Chillout Remix Mp3 Listen Online

Teri Mitti Chillout Remix Mp3 Song Download Here

gaanamp3 download

Teri Mitti Chillout Remix Song Lyrics Here

तलवारों पे सर वार दिये
अंगारों में जिस्म जलाया है
तब जा के कहीं हमने सर पे
ये केसरी रंग सजाया है
ऐ मेरी ज़मीं, अफ़सोस नही जो तेरे लिये १०० दर्द सहे
महफ़ूज़ रहे तेरी आन सदा, चाहे जान मेरी ये रहे ना रहे
ऐ मेरी ज़मीं, महबूब मेरी
मेरी नस-नस में तेरा इश्क़ बहे
“फीका ना पड़े कभी रंग तेरा, ” जिस्मों से निकल के खून कहे
तेरी मिट्टी में मिल ਜਾਵਾਂ
गुल बनके मैं खिल ਜਾਵਾਂ
इतनी सी है दिल की आरज़ू
तेरी नदियों में बह ਜਾਵਾਂ
तेरे खेतों में ਲਹਰਾਵਾਂ
इतनी सी है दिल की आरज़ू
सरसों से भरे खलिहान मेरे
जहाँ झूम के ਭੰਗੜਾ पा ना सका
आबाद रहे वो गाँव मेरा
जहाँ लौट के वापस जा ना सका
ओ ਵਤਨਾ ਵੇ, मेरे ਵਤਨਾ ਵੇ
तेरा-मेरा प्यार निराला था
कुरबान हुआ तेरी अस्मत पे
मैं कितना ਨਸੀਬਾਂ वाला था
तेरी मिट्टी में मिल ਜਾਵਾਂ
गुल बनके मैं खिल ਜਾਵਾਂ
इतनी सी है दिल की आरज़ू
तेरी नदियों में बह ਜਾਵਾਂ
तेरे खेतों में ਲਹਰਾਵਾਂ
इतनी सी है दिल की आरज़ू
केसरी
ओ हीर मेरी, तू हँसती रहे
तेरी आँख घड़ी भर नम ना हो
मैं मरता था जिस मुखड़े पे
कभी उसका उजाला कम ना हो
ओ माई मेरी, क्या फ़िक्र तुझे?
क्यूँ आँख से दरिया बहता है?
तू कहती थी, तेरा चाँद हूँ मैं
और चाँद हमेशा रहता है
तेरी मिट्टी में मिल ਜਾਵਾਂ
गुल बनके मैं खिल ਜਾਵਾਂ
इतनी सी है दिल की आरज़ू
तेरी नदियों में बह ਜਾਵਾਂ
तेरी फ़सलों में ਲਹਰਾਵਾਂ
इतनी सी है दिल की आरज़ू
error: Protected By MOOJI